ACB की बड़ी कार्रवाई, भीलवाड़ा तहसीलदार को रिश्वत लेते किया ट्रैप

ACB की बड़ी कार्रवाई, भीलवाड़ा तहसीलदार को रिश्वत लेते किया ट्रैप
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

Khabarexpo : भीलवाड़ा तहसीलदार लाला राम यादव उनके भाई दलाल और एक लाभार्थी सहित 4 स्‍थानों पर जयपुर की भ्रष्‍टाचार निरोधक टीम ने एक साथ छापे मार तहसीलदार लाला राम यादव के भीलवाड़ा आवास से 5 लाख 36 हजार, दलाल बिजौलियां के आवास से 12 लाख रुपये से अधिक की राशि बरामदगी की है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक बीएल सोनी ने कहा कि यह छापेमारी हमारी सूचना पर आधारित है। हमें जानकारी मिली थी कि भीलवाड़ा तहसीलदार लालाराम यादव राजस्‍व मामले में रिश्‍वत लेकर निर्णय कर रहे है। इसी आधार पर तहसीलदार लालाराम यादव, उनके भाई पूरन यादव, दलाल कैलाश धाकड़ और जिनकी जमीन का काम होना था, उनके घर दीपक चौधरी के घरों पर एक साथ छापेमारी की गयी। तहसीलदार लाला राम यादव और दलाल कैलाश धाकड़ के घरों से लाखों रुपये नकद मिलने के साथ ही महत्वपूर्ण सरकारी दस्तावेज भी मिले हैं। जिनकी जांच की जा रही है। सोनी ने यह भी कहा कि तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

हमें इस मामले में कोई शिकायत नहीं मिली

एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एमएन ने कहा कि हमें इस मामले में कोई शिकायत नहीं मिली थी हमने अपनी सूचना के आधार पर जिसमें रिश्‍वत देने वाला दलाल और सरकारी कर्मचारी शामिल है। तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हम अपील करते हैं कि जहां भी जनता को इस तरह की जानकारी मिले कि बड़े-बड़े रैकेट काम कर रहे हैं, हमें इसकी सूचना दें।

जमीनों के फैसलें करवा रहे थे

भीलवाड़ा के तहसीलदार लाला राम यादव के घर पर छापेमारी करने वाले अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एसीबी राजेंद्र सिंह नैन ने कहा कि हमें सूचना मिली थी कि भीलवाड़ा के तहसीलदार लाला राम यादव खुद व अन्य अधिकारी जमीन का फैसला करा रहे हैं। दलालों के माध्यम से पैसों का लेन-देन किया जा रहा है। उसी के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर छापेमारी की गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.