भारत के प्रधानमंत्री से भी ज्यादा ताकतवर होंगी देश की 15वीं राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू, जानिए राष्ट्रपति को मिलने वाली शक्तियां

भारत के प्रधानमंत्री से भी ज्यादा ताकतवर होंगी देश की 15वीं राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू, जानिए राष्ट्रपति को मिलने वाली शक्तियां
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

khabarexpo: भारत के राष्ट्रपति के रूप में द्रौपदी मुर्मू को चुन लिया गया है। राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू ने वोटों के काफी बड़े अंतर से विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को मात देकर जीत हासिल की है। इस चुनाव में द्रौपदी मुर्मू ने 6,76,803 वोट हासिल किए तो वहीं विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को 3,80,177 वोटों से ही संतोष करना पड़ा। कई बड़े नेताओं ने इस जीत पर खुशी जताई है। पहली बार कोई आदिवासी महिला देश के सबसे ऊंचे पद पर नियुक्त हुई है। लेकिन क्या आपको पता है कि भारत के राष्ट्रपति के पास कुछ ऐसी शक्तियां भी होती हैं जो कि प्रधानमंत्री के पास भी नहीं होती हैं।

राष्ट्रपति के पास होती हैं ये शक्तियां

देश का प्रधानमंत्री न्यायिक व्यवस्था में कोई दखल नहीं कर सकता है, लेकिन भारत के राष्ट्रपति पास ऐसी शक्ति होती हैं, जिसका इस्तेमाल करके वो कोर्ट द्वारा दी गई फांसी की सजा भी माफ कर सकता हैं। जबकि ऐसी कोई शक्ति प्रधानमंत्री के पास नहीं होती है। इसके अलावा देश में इमरजेंसी घोषित करने का अधिकार भी देश के राष्ट्रपति के पास ही होता है लेकिन प्रधानमंत्री खुद इसका आदेश नहीं दे सकते हैं। हालांकि संविधान की धारा 74 (1) के अनुसार यह व्यवस्था की गई है कि राष्ट्रपति की सहायता के लिए एक मंत्रिमंडल होगा और उसके प्रमुख प्रधानमंत्री होंगे। उन्ही की सलाह पर ही राष्ट्रपति तमाम आदेश देते हैं।

बड़े अंतर से द्रौपदी मुर्मू को मिली जीत

भारत के 15वें राष्ट्रपति के रूप में द्रौपदी मुर्मू को चुन लिया गया है। एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को 2,824 प्रथम वरीयता मत हासिल हुए है। जिनका मूल्य 6,76,803 था। वहीं, संयुक्त विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को 1,877 वोट मिले, जिनका मूल्य 3,80,177 था। आपको बता दें कि द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति चुनाव में 64 प्रतिशत से ज्यादा वोट हासिल कर जीत दर्ज की है। 

आजादी के बाद जन्मी पहली राष्ट्रपति होंगी मुर्मू

द्रौपदी मुर्मू स्वतंत्रता के बाद जन्म लेने वाली पहली राष्ट्रपति होंगी। इसके अलावा वो अब तक की सबसे कम उम्र की राष्ट्रपति भी होंगी। दरअसल वह दूसरी महिला हैं जो देश की राष्ट्रपति बनी हैं। द्रौपदी मुर्मू 25 जुलाई को पद और गोपनीयता की शपथ लेने वाली है।