लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी की जमानत पर हाईकोर्ट में सुनवाई पूरी, फैसला सुरक्षित

लखीमपुर खीरी हिंसा के मुख्य आरोपी की जमानत पर हाईकोर्ट में सुनवाई पूरी, फैसला सुरक्षित
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

khabarexpo : लखीमपुर खीरी के तिकुनियां में 3 अक्टूबर को उपद्रव के बाद चार किसानों समेत आठ लोगों की हिंसा के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा उर्फ ​​मोनू को फिलहाल राहत नहीं मिल रही है।

आपको बता दें कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा उर्फ ​​टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को मंगलवार को जमानत पर रिहा कर दिया गया। इसके बाद फैसला कोर्ट में सुरक्षित रख लिया जाता है। माना जा रहा है कि एक-दो दिन में जमानत पर फैसला आ जाएगा।

लखीमपुर खीरी के तिकुनियां हिंसा मामले के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा मोनू की जमानत पर मंगलवार को सुनवाई हुई। हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में आशीष मिश्रा मोनू की जमानत पर सुनवाई आज पूरी हो गई। इसके बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। इस मामले में राज्य सरकार की ओर से अतिरिक्त महाधिवक्ता वीके शाही ने आशीष मिश्रा की जमानत का विरोध किया।

लंबी बहस के बाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। मंत्री के पुत्र आशीष मिश्रा मोनू की ओर से गोपाल चतुर्वेदी और सरकार की ओर से एएजी विनोद कुमार शाही। माना जा रहा है कि मोनू की जमानत पर दो-तीन दिन में फैसला आ जाएगा। मोनू मिश्रा 14 अक्टूबर को अपने साथियों के साथ गिरफ्तारी के बाद से जेल में है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.