आधार अपडेट कराने की कितनी है फीस, ज्यादा पैसे मांगने पर कहां करें शिकायत, यहां जानिए

आधार अपडेट कराने की कितनी है फीस, ज्यादा पैसे मांगने पर कहां करें शिकायत, यहां जानिए
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

यूआईडीएआई ने एक ट्वीट में कहा कि वह किसी भी एजेंसी द्वारा समर्थन सेवाओं के लिए लोगों से अधिक शुल्क वसूलने का कड़ा विरोध करता है। यूआईडीएआई ने कहा कि बच्चों के लिए आधार पंजीकरण और जरूरत पड़ने पर बायोमेट्रिक्स अपडेट करने का कोई शुल्क नहीं है।

आधार कार्ड के बिना हमारे कई जरूरी काम रुक सकते हैं। इसके अलावा बिना आधार कार्ड के कई सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठाया जा सकता है। भारत में, आधार कार्ड न केवल वयस्कों और बुजुर्गों के लिए बल्कि बच्चों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। बच्चों के स्कूल में दाखिले और विभिन्न सरकारी योजनाओं के लिए आधार कार्ड जरूरी है। जरूरत पड़ने पर आधार कार्ड को बदला भी जा सकता है। देश में आधार कार्ड जारी करने वाली यूआईडीएआई ने अलग-अलग सेवाओं के लिए अलग-अलग शुल्क तय किए हैं।

विभिन्न सेवाओं के लिए अलग-अलग शुल्क
यूआईडीएआई के मुताबिक, अगर आप अपने आधार कार्ड में जनसांख्यिकीय अपडेट करना चाहते हैं तो आपसे 50 रुपये का शुल्क लिया जाता है। इसके अलावा बायोमेट्रिक अपडेट के लिए 100 रुपये का चार्ज लगता है। वहीं, बच्चों के लिए जरूरी सपोर्ट रजिस्ट्रेशन और बायोमेट्रिक अपडेट पूरी तरह से फ्री है। हालांकि, अक्सर ऐसा होता है कि लोगों से निर्धारित शुल्क से अधिक शुल्क लिया जाता है।यूआईडीएआई निर्धारित सीमा से अधिक शुल्क लेने के ठीक विपरीत है।

यूआईडीएआई ने एक ट्वीट में कहा कि वह किसी भी एजेंसी द्वारा समर्थन सेवाओं के लिए लोगों से अधिक शुल्क वसूलने का कड़ा विरोध करता है। यूआईडीएआई ने एक ट्वीट में कहा कि बच्चों के समर्थन नामांकन और जरूरत पड़ने पर बायोमेट्रिक्स अपडेट करने का कोई शुल्क नहीं है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *