25 हजार रुपयें के लालच में अपने ही परिचित की कर डाली बेरहमी से हत्या, इस तरह दिया साजिश को अंजाम

25 हजार रुपयें के लालच में अपने ही परिचित की कर डाली बेरहमी से हत्या, इस तरह दिया साजिश को अंजाम
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

khabarexpo: जयपुर में एक युवक द्वारा 25 हजार रुपयें के लालच में आकर अपने परिचित की हत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि इस युवक ने परिचित के सिर पर पत्थर से ताबड़तोड़ वार कर उसे मारने के बाद शव को नाले में फेंक दिया। परिजनो ने जब मृतक की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई तो विश्वकर्मा थाना पुलिस तलाश में जुट गई। आखिरी बार साथ देखे गए परिचित युवक से जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो मर्डर का खुलासा हुआ। हत्यारे की निशानदेही पर आज सुबह पुलिस ने मृतक का शव बरामद कर लिया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए शव को हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवाया है। हत्यारे ने रुपयों के लालच में तीन दिन पहले हत्या करना कबूल किया है।

SHO रमेश सैनी ने बताया कि रोड नंबर-17 मुरलीपुरा निवासी सुभाष यादव की हत्या हुई है। मृतक विश्वकर्मा इलाके में स्थित एक फैक्ट्री में मजदूरी का काम करता था। पास ही की फैक्ट्री में विक्रांत भी काम करता है। 19 जुलाई को सुभाष बैंक से रुपए निकालने गया था। इस दौरान विक्रांत भी उसके साथ बैंक में गया था। जब सुभाष ने बैंक अकाउंट से 25 हजार रुपए निकाले तो उन रुपयों को देखकर विक्रांत को लालच आ गया। उन रुपयों को पाने के लिए उसने सुभाष के मर्डर का प्लान बना डाला। शाम करीब 4 बजे वह बहाना बनाकर सुभाष को विश्वकर्मा इंडस्ट्रियल एरिया की एक सुनसान जगह ले गया और बातचीत के दौरान मौका मिलते ही उसने सुभाष के सिर पर पत्थर से वार कर डाला। लहूलुहान हालत में जमीन पर गिरते ही पत्थर से ताबड़तोड़ वार कर उसने सुभाष की हत्या कर डाली।

नाले में फेंका शव

सुभाष को मारने के बाद उसने जेब में रखे 25 हजार रुपए निकाले और शव को पास ही के एक नाले में धक्का देकर फेंक दिया। शव ठिकाने लगाने के बाद वह वहां से फरार हो गया। जब सुभाष घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने उसकी तलाश करना शुरू कर दिया। लेकिन काफी ढूंढने के बाद भी सुभाष का कोई पता नहीं लग पाया। 21 जुलाई को सुभाष के बेटे ने थाने जाकर पिता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। लापता सुभाष की तलाश में जुटी पुलिस को पता चला कि आखिरी बार विक्रांत को सुभाष के साथ देखा गया था। गुरुवार रात को पुलिस ने थाने बुलाकर विक्रांत से पूछताछ की। शक होने पर सख्ती से पूछताछ करने पर विक्रांत ने सुभाष की हत्या करना कबूल कर लिया।

हत्यारे के बताने पर मिली लाश

पुलिस टीम आज सुबह आरोपी विक्रांत को लेकर विश्वकर्मा इंडस्ट्रियल एरिया पहुंची। जहां आरोपी विक्रांत की बताई जगह पर ही सुभाष का शव पड़ा मिला। पुलिस ने FSL टीम की मदद से मौके से सभी सबूत इकट्ठा किए और नाले से शव को बाहर निकलवाया। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है। पुलिस ने वारदातस्थल से हत्या में काम में लिया गया 10 किलो का वजनी पत्थर भी बरामद कर लिया है।