कन्हैयालाल मर्डर केस का बिहार से कनेक्शन आया सामने! NIA ने किया एक शख्स को गिरफ्तार

कन्हैयालाल मर्डर केस का बिहार से कनेक्शन आया सामने! NIA ने किया एक शख्स को गिरफ्तार
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल की हत्या के तार अब बिहार और हैदराबाद से भी जुड़ने लगे हैं। मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने इस मामले में बिहार के रहने वाले एक शख्स को हैदराबाद से गिरफ्तार कर लिया है। एनआईए ने बिहार के रहने वाले मोहम्मद मुनव्वर अशरफी को संतोष नगर इलाके से गिरफ्तार किया है और उनसे पूछताछ में जुटी हुई है।

एनआईए को ऐसे मिला बिहार कनेक्शन का सुराग

दरअसल मामले की जांच में जुटी एनआईए को उदयपुर हत्या के आरोपी के कॉल डेटा में बिहार के एक व्यक्ति का मोबाइल नंबर मिला था। जिसके बाद व्यक्ति के हैदराबाद में होने की सूचना मिली। एनआईए ने हैदराबाद से उसे गिरफ्तार कर लिया है। अब जांच एजेंसी उससे दोनों आरोपियों से संबंधों के बारे में पूछताछ कर रही है।

हैदराबाद गए थे हत्या के आरोपी गौस और वसीम

इस बीच राष्ट्रीय जांच एजेंसी के हाथ उदयपुर हत्या के आरोपियों की नई तस्वीर सामने आने लगी है, जिससे ये पता चला है कि दोनों आरोपी हैदराबाद गए थे। एनआईए की जांच में ये पता चला है कि गौस और वसीम 2017-2018 में हैदराबाद गए थे। अब एनआईए उनके हैदराबाद जाने के मकसद की तलाश में जुटी हुई है। जांच के दौरान ये पता चला है कि मोहम्मद गौस और वसीम अत्तारी देश भर में लोगों को दावत-ए-इस्लामिया से जोड़ने का काम कर रहे थे और इसके लिए वह पैसा भी जमा कर रहे थे।

दावत-ए-इस्लामी से जुड़े हैं आरोपी 

उदयपुर के दर्जी कन्हैयालाल की बर्बर हत्या करने वाले हत्यारे दावत-ए-इस्लामी संगठन से भी जुड़े हुए हैं। इस जघन्य अपराध की जांच कर रहे खुफिया जांच एजेंसियों के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार इस कत्ल की साजिश 20 जून को उदयपुर कलेक्ट्रेट पर नूपुर शर्मा के खिलाफ हुए बड़े प्रदर्शन के बाद रची गई थी।