जसोल धाम में उमड़ा आस्था का जनसैलाब, त्रयोदशी के अवसर पर दूर दराज से पहुंचे श्रद्धालु

जसोल धाम में उमड़ा आस्था का जनसैलाब, त्रयोदशी के अवसर पर दूर दराज से पहुंचे श्रद्धालु
योगेश सोनी
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

संवाददाता – योगेश सोनी

जसोल। वैशाख मास की शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी के अवसर पर जसोल स्थित माता राणी भटियाणी मंदिर जसोल धाम में आस्था का जनसैलाब उमड़ रहा है। जसोल धाम में स्थानीय सहित दूर दराज से पहुंचे श्रद्धालुओं की कतार लग गई। श्रद्धालुओं ने मां के दरबार में पूजा अर्चना कर धोक लगाकर और प्रसाद चढ़ाकर परिवार में खुशहाली की कामना की। शनिवार को सवेरे से ही मंदिर में श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला जारी हो गया था, जो दिन चढ़ने के साथ बढ़ता ही गया।

भीषण गर्मी में भी श्रद्धालु अपनी आस्था के साथ मां के दरबार में दर्शन करने के लिए पहुंचे। 45 डिग्री तापमान में श्रद्धालु मंदिर के बाहर तक लंबी-लंबी कतारों में दर्शन करने के लिए खड़े रहे।

मंदिर संस्थान द्वारा भीषण गर्मी से बचने के लिए धूप निरोधक टेंट लगाकर तथा पीने की पानी की व्यवस्था की गई जिससे श्रद्धालुओं को गर्मी से बचाया जा सके। कतार में लगे श्रद्धालु मां के मंदिर में आने पर पूरा मंदिर माता रानी भटियाणी के जयकारों से गूंज उठा।

माकूल रही सुरक्षा व्यवस्था

त्रयोदशी के अवसर पर भारी भीड़ को देखते हुए मंदिर व्यवस्था समिति एवं पुलिस प्रशासन की ओर से मंदिर परिसर में सुरक्षा के माकूल बंदोबस्त किए गए।

चांदनी तेरस पर सजी दुकानें

जसोल धाम में चांदनी तेरस के अवसर पर मंदिर परिसर, बस स्टैंड और आसपास के क्षेत्र में दुकानें सजाई गई। दुकानदारों की ओर से ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए दुकानों पर आकर्षण सजावट की गई।

छेड़ाबंदी कर जात लगाई

त्रयोदशी के अवसर पर कई नव विवाहित जोड़ों ने छेड़ाबंदी कर सुखी दांपत्य जीवन की कामना के लिए मां के दरबार में जात लगाई। नव विवाहित जोड़ों ने अपने परिजनों के साथ मां के दरबार में शीश नवाकर पूजा अर्चना की।