राजस्थान में भी और सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल, CM गहलोत ने किया ऐलान

राजस्थान में भी और सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल, CM गहलोत ने किया ऐलान
-5264283304557104" crossorigin="anonymous">

khabarexpo : राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) भी जल्द ही पेट्रोल और डीजल (petrol and diesel) की कीमतों में कटौती (cut prices) करेगी। इसके लिए सरकार वैट कम (VAT less) करेगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने मंगलवार को जोधपुर के जलेली फोजदार गांव में आयोजित एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जब सभी राज्यों ने पेट्रोल-डीजल के दाम कम (Petrol and diesel prices) कर दिए हैं तो हमें भी कम करने पड़ेगे। मुख्यमंत्री ने जनसभा में कहा कि हम जल्द ही पेट्रोल और डीजल पर वैट भी कम करेंगे। मुख्यमंत्री गहलोत के इस ऐलान से प्रदेश की जनता को बड़ी राहत मिली है। हालांकि, राज्य सरकार कितनी वैट कम करेगी, यह आने वाले समय में स्पष्ट होगा।

आपको बता दें कि सीएम गहलोत की घोषणा के साथ ही राज्य में पेट्रोल-डीजल पर सियासत पर भी लगाम लगेगी। दरअसल केंद्र सरकार (central government) द्वारा पेट्रोल-डीजल पर उत्पाद शुल्क कम किए जाने के बाद राज्य सरकार पर वैट घटाने का दबाव लगातार बढ़ता जा रहा था। यहां तक ​​कि सीएम गहलोत ने मंगलवार को ही प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर पेट्रोल और डीजल पर अतिरिक्त उत्पाद शुल्क में कमी की मांग की थी।

खबर ये भी पढ़े – डिफॉल्टर्स किसानों की किस्मत खुली, गहलोत सरकार देगी फसली कर्ज

मास्टर स्ट्रोक खेला

गौरतलब है कि पांच राज्यों के चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी (excise duty) घटाकर मास्टर स्ट्रोक खेला। केंद्र की तर्ज पर अब राज्य सरकारें भी अपने स्तर पर राहत देने में लगी हैं और करीब 25 राज्यों ने वैट की दरों में कटौती की है। खास बात यह है कि कांग्रेस शासित पंजाब ने भी पेट्रोल में 10 रुपये और डीजल में 5 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी। ऐसे में राजस्थान सरकार पर वैट घटाने का दबाव बढ़ता जा रहा था। राजस्थान में भाजपा यह मुद्दा बना रही थी कि राज्य में पेट्रोल-डीजल सबसे महंगा है। कई बार इनकार के बाद अब सीएम गहलोत ने पेट्रोल-डीजल पर वैट घटाने (VAT reduction on petrol and diesel) का ऐलान किया है।

वैट दरों में कमी की मांग

पेट्रोल-डीजल
पेट्रोल-डीजल

राजस्थान में, हरियाणा, गुजरात और मध्य प्रदेश की सीमा पर स्थित पेट्रोल पंपों को पेट्रोल और डीजल की कीमत के कारण सबसे ज्यादा नुकसान हो रहा है। दरअसल, इन तीनों राज्यों में पेट्रोल-डीजल की दरों में कमी की वजह से यह राजस्थान से सस्ता है। इसलिए राजस्थान के पेट्रोल पंप मालिकों के संघ ने सीएम गहलोत से वैट दरों में कमी की मांग की थी। अब सीएम ने वैट में कटौती पर विचार करने का आश्वासन दिया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.